Skip to main content

तुरंत अपार धन पाने के और बिजनेस में खरेदी बिक्री बढ़ाने के मंत्र


इस पोस्ट में मैंने श्री गणेश भगवान के एक अपार धन, दौलत, सुख और समृद्धि पाने के महाशक्तिशाली मंत्र और एक व्यापार यानी की बिजनेस में तुरंत खरीद-बिक्री बढ़ाकर व्यवसाय को समृद्ध बनाने के सटीक जैन मंत्र के बारे में जानकारी दी है।

यह दोनों आजमाए हुए धन प्राप्ति मंत्र है जो बहुत जल्द काम करते है और साधक के मनोकामनाओं की पूर्ति करते है।

इस श्री गणेश मंत्र को बोलने के कुछ खास लाभ:

महाशक्तिशाली गणेश और जैन मंत्र


1] अपार धन-दौलत, संपत्ति और हर प्रकार की समृद्धि की प्राप्ति होती है और जीवन खुशियों से भर जाता है।

2] नौकरी में तरक्की होती है और व्यवसाय में लाभ और नफा होता है।

3] घर-धंधे में धन-दौलत का प्रचंड आकर्षण होता है।

इस श्री गणेश मंत्र को बोलने जी विधि:

1] इस श्री गणेश मंत्र के जाप को मंगलवार के दिन से शुरू करें और हर रोज सवेरे स्नान करने के बाद स्वच्छ वस्त्र पहनकर मंत्र को १०८ बार बोलें।

2] मंत्र को निर्धारित दिनों के लिए बोलना चाहते हो तो वैसा संकल्प लेकर मंत्र का जाप शुरू करें।

3] विशिष्ट पूजा-विधि, दिशा, आसन, माला इत्यादि के नियम नहीं है सिर्फ श्री गणेश भगवान का स्मरण करके मंत्र जाप शुरू करें।

मंत्र 
ॐ ह्रीं श्रीं क्लीं नमो भगवते गजाननाय ||

Mantra
Om Hreem Shreem Kleem Namo Bhagavate Gajananaya ||

इस श्री गणेश मंत्र का अर्थ: अपार धन-दौलत प्रदान करने वाले भगवान गजानन को मेरा नमन।

नोट: इस धन प्राप्ति श्री गणेश मंत्र के विडिओ को आप हमारे यूट्यूब चैनल पर देख सकते हो – अपार धन-दौलत पाने का गणेश मंत्र

व्यापार में तुरंत खरीदी-बिक्री बढ़ाने का अचूक जैन मंत्र प्रयोग:

इस जैन मंत्र प्रयोग के प्रमुख लाभ:


1] ग्राहकों का आकर्षण होता है और बिक्री, कारोबार और नफा बढ़ जाता है।

2] धंधा बढ़ जाता है और धंधे में हर तरफ से धन का आकर्षण होता है।

इस व्यापार वृद्धि मंत्र के प्रयोग की विधि:

1] इस मंत्र प्रयोग को किसी भी दिन किया जा सकता है और यह एक बार करने का मंत्र प्रयोग है जिसे कुछ दोनों के  बाद फिर से किया जा सकता है। 

2] साधक ने सवेरे स्नान करके साफ कपड़े पहनकर अक्षत [ चावल के दानों ] को ५०० बार अभिमंत्रित कर के दुकान की सामग्री में छिड़कना है।

मंत्र
ॐ ह्रीं श्रीं धन धान्य करि महाविद्ये अवतर अवतर मम गृहे धन धान्यं कुरु कुरु स्वाहा ||

Mantra
Om Hreem Shreem Dhan Dhanya Kari Mahavidye Avatar Avatar Mam Gruhe Dhan Dhanyam Kuru Kuru Swaha ||


नोट: इस खरेदी-बिक्री बढ़ाने के मंत्र के विडिओ को आप हमारे यूट्यूब चैनल पर देख सकते हो – तुरंत बिजनेस में तरक्की पाने का शक्तिशाली जैन मंत्र प्रयोग

Comments

Popular posts from this blog

लाख कोशिश करने के बाद भी सफलता नहीं मिल रही है तो इस गणेश मंत्र को बोलें

लाख कोशिश करने के बाद भी किसी भी काम, कार्य या हेतु, जैसे कि नई नौकरी-धंधा पाने की कोशिश, प्यार-शादी करने के प्रयास, नया मकान खरीदने की कोशिश और अन्य कामों और मनोकामना पूरी करने में यश नहीं मिल रहा है तो इस श्री गणेश जी के सर्व कार्य सिद्धि मंत्र को बोलने से यश मिलने की संभावना बढ़ जाती है.

चमत्कारी बीज मंत्र और उनका जाप करने के फायदे

देवी देवताओं के १४ चमत्कारी और महा शक्तिशाली देवी देवताओं के बीज मंत्रों के रहस्य लाभ और फायदे इस पोस्ट में बताई गयी है. इन बीज मंत्रों का जाप या रोज स्मरण करने से आम इंसान, बच्चे और साधकों को लाभ हो सकता है.

बरगद के पेड़ के पत्ते के चमत्कारी उपाय

बरगद के पेड़ के पत्ते से किसी भी प्रकार की इच्छा या मनोकामना पूरी करने के और धन-दौलत पाने के 2 चमत्कारी सरल और आसान उपायों के बारे में इस आर्टिक्ल में जानकारी दी गयी है। इन घरेलू उपायों को करने के लिए ज्यादा से ज्यादा 5-10 मिनट लगते है। और यह इतने सरल है की इनका प्रयोग कोई भी व्यक्ति बिना परेशानी से कर सकता है।

तुरंत काम करने वाले काली माता और हनुमानजी के महाशक्तिशाली शत्रु नाशक मंत्र

इस आर्टिकल में सबसे असरदार और तुरंत काम करने वाले काली माता और हनुमानजी के शत्रु नाशक मंत्रों की जानकारी दी गयी है। इन महाशक्तिशाली शत्रु को नष्ट करने वाले मंत्रों से किसी भी शत्रु का नाश कीया जा सकता है।

महा शक्तिशाली मनोकामना पूर्ति और शत्रु नाशक बीज मंत्र

इस आर्टिकल में महादेव के मुख से निकले और डामर तंत्र में वर्णित सबसे शक्तिशाली मनोकामना पूर्ति करने के और दुश्मन से मुक्ति पाने के महा मंत्र के बारे में बताया है।

3 Words Hanuman Mantras to Destroy Enemies

Many times it is not possible for everyone to chant the श्री हनुमान अष्टोत्तर-शतनाम-नामावली/Shri Hanuman Ashtottara Shatanamavali, which is a compilation of the 108 names of Lord Hanuman. Hence, in an emergency related to danger from enemies such people can chant these 3 words Hanuman Mantras derived from the Shri Hanuman Ashtottara Shatanamavali.