Skip to main content

श्री सिद्धि विनायक अष्टोत्तर शतनाम-नामावली इंग्लिश और हिन्दी

श्री सिद्धि विनायक अष्टोत्तर शतनाम-नामावली / Shri Siddhivinayak Ashtottara Shatanamavali इन इन इंग्लिश एण्ड हिन्दी।

यह महाशक्तिशाली और अद्भुत मंत्र श्री गणेशा / गणपती के 108 नामों / 108 Names of Lord Ganesha पर आधारित है।

श्री गणेश के इन 108 नामों का जाप करने से कल्याण ही कल्याण होता है। सुख-समाधान और शांति मिलती, कर्मों का नाश होकर पापों से मुक्ति मिलती है, शत्रु, रोग और बाधाओं से होने वाली परेशानी बंद हो जाती है और धन-दौलत की प्राप्ति होकर जीवन सफल बन जाता है।

|| श्री सिद्धिविनायक नमो नमः ||

श्री सिद्धि विनायक अष्टोत्तर शतनाम-नामावली इंग्लिश और हिन्दी

1] Om Vinayakaaya Namah || - ॐ विनायकाय नमः ||
2] Om Vighnarajaaya Namah || ॐ विघ्नराजाय नमः ||
3] Om Gowriputhraaya Namah || ॐ गौरीपुत्राय नमः ||
4] Om Ganeshwaraaya Namah || ॐ गणेश्वराय नमः ||
5] Om Skandagrajaaya Namah || ॐ स्कंदाग्रजाय नमः ||
6] Om Avyayaaya Namah || ॐ अव्ययाय नमः ||
7] Om Puthaaya Namah || ॐ पूताय नमः ||
8] Om Dakshaaya Namah || ॐ दक्षाय नमः ||
9] Om Adhyakshaaya Namah || ॐ अध्यक्षाय नमः ||
10] Om Dwijapriyaaya Namah || ॐ द्विजप्रियाय नमः ||

11] Om Agnigarbhachide Namah || ॐ अग्निगर्भच्छिदे नमः ||
12] Om Indhrashripradaaya Namah || ॐ इन्द्रश्रीप्रदाय नमः ||
13] Om Vaanipradaaya Namah || ॐ वाणीप्रदाय नमः ||
14] Om Pramodaya Namah || ॐ प्रमोदाय नमः ||
15] Om Sarvasiddhipradaaya Namah || ॐ सर्वसिद्धिप्रदाय नमः ||
16] Om Sarvajyanayaaya Namah || ॐ सर्वज्ञानाय नमः ||
17] Om Sarvapriyaaya Namah || ॐ सर्वप्रियाय नमः ||
18] Om Sarvaatmakaaya Namah || ॐ सर्वात्मकाय नमः ||
19] Om Srishtikarthre Namah || ॐ सृष्टिकर्त्रे नमः ||
20] Om Dhevaaya Namah || ॐ देवाय नमः ||

21] Om Anekarchitaaya Namah || ॐ अनेकार्चिताय नमः ||
22] Om Shivaaya Namah || ॐ शिवाय नमः ||
23] Om Shuddhaaya Namah || ॐ शुद्धाय नमः ||
24] Om Buddhipriyaaya Namah || ॐ बुद्धिप्रियाय नमः ||
25] Om Shantaya Namah || ॐ शांताय नमः ||
26] Om Brahmacharine Namah || ॐ ब्रह्मचारिणे नमः ||
27] Om Gajananaaya Namah || ॐ गजाननाय नमः ||
28] Om Dvaimadhuraaya Namah || ॐ द्वैमात्रेयाय नमः ||
29] Om Munistuthaaya Namah || ॐ मुनिस्तुताय नमः ||
30] Om Bhaktavighnavinashanaaya Namah || ॐ भक्तविघ्नविनाशनाय नमः ||

31] Om Ekadhandaya Namah || ॐ एकदन्ताय नमः ||
32] Om Chaturbhahave Namah || ॐ चतुर्बाहवे नमः ||
33] Om Chaturaaya Namah || ॐ चतुराय नमः ||
34] Om Shakthi-Samyutaaya Namah || ॐ शक्ति-सम्युताय नमः ||
35] Om Lambhodaraaya Namah || ॐ लम्बोदराय नमः ||
36] Om Shoorpakarnaaya Namah || ॐ शूर्पकर्णाय नमः ||
37] Om Haraaye Namah || ॐ हराय नमः ||
38] Om Brahmaviduttamaaya Namah || ॐ ब्रह्मविदुत्तमाय नमः ||
39] Om Kalaaya Namah || ॐ कालाय नमः ||
40] Om Grahapataaye Namah || ॐ ग्रहपतये नमः ||

41] Om Kaamine Namah || ॐ कामिने नमः ||
42] Om Soma-Suryagnilochanaaya Namah || ॐ सोम सूर्याग्नि लोचनाय नमः ||
43] Om Pashankusha-Dharaaya Namah || ॐ पाशाङ्कुशधराय नमः ||
44] Om Chandhaaya Namah || ॐ चण्डाय नमः ||
45] Om Gunathitaaya Namah || ॐ गुणातीताय नमः ||
46] Om Niranjanaaya Namah || ॐ निरञ्जनाय नमः ||
47] Om Akalmashaaya Namah || ॐ अकल्मषाय नमः ||
48] Om Swayamsiddhaaya Namah || ॐ स्वयंसिद्धाय नमः ||
49] Om Siddharchitapadhambujaaya Namah || ॐ सिद्धार्चितपदाम्बुजाय नमः ||
50] Om Bijapuraphalasakthaaya Namah || ॐ बीजापुरफलासक्ताय नमः ||

51] Om Varadhaaya Namah || ॐ वरदाय नमः ||
52] Om Shashwataaya Namah || ॐ शाश्वताय नमः ||
53] Om Krithine Namah || ॐ कृतिने नमः ||
54] Om Vidhwatpriyaaya Namah || ॐ विद्वत्प्रियाय नमः ||
55] Om Vithabhayaaya Namah || ॐ वीतभयाय नमः ||
56] Om Gadhine Namah || ॐ गदिने नमः ||
57] Om Chakrine Namah || ॐ चक्रिणे नमः ||
58] Om Ikshuchapadhrute Namah || ॐ इक्षुचापधृते नमः ||
59] Om Shridaaya Namah || ॐ श्रीदाय नमः ||
60] Om Ajaya Namah || ॐ अजाय नमः ||

61] Om Utphalakaraaya Namah || ॐ उत्फलकराय नमः ||
62] Om Shripataye Namah || ॐ श्रीपतये नमः ||
63] Om Stuthi-Harshitaaya Namah || ॐ स्तुति-हर्षिताय नमः ||
64] Om Kuladri-Bhrite Namah || ॐ कुलाद्रि-भ्रिते नमः ||
65] Om Jatilaaya Namah || ॐ जटिलाय नमः ||
66] Om Kali-Kalmashanashanaaya Namah || ॐ कलि कल्मष नाशनाय नमः ||
67] Om Chandrachudamanaye Namah || ॐ चन्द्रचूड़मानये नमः ||
68] Om Kantaaya Namah || ॐ कांताय नमः ||
69] Om Papahaarine Namah || ॐ पापहारिणे नमः ||
70] Om Sama-Hithaaya Namah || (ॐ समा-हिताय नमः ||

71] Om Aashritaaya Namah || ॐ आश्रिताय नमः ||
72] Om Shrikaraaya Namah || ॐ श्रीकराय नमः ||
73] Om Sowmyaaya Namah || ॐ सौम्याय नमः ||
74] Om Bhaktavamchita-Dayakaaya Namah || ॐ भक्तवान्च्छित-दायकाय नमः ||
75] Om Shantaaya Namah || ॐ शांताय नमः ||
76] Om Kaivalya-Sukhadaaya Namah || ॐ कैवल्य-सुखदाय नमः ||
77] Om Sachidanandavigrahaaya Namah || ॐ सच्चिदानन्दविग्रहाय नमः ||
78] Om Jnanine Namah || ॐ ज्ञानिने नमः ||
79] Om Dayayuthaaya Namah || ॐ दयायुताय नमः ||
80] Om Dandhaaya Namah || ॐ दण्डाय नमः ||

81] Om Brahma-Dveshavivarjitaaya Namah || ॐ ब्रह्मद्वेषविवर्जिताय नमः ||
82] Om Pramatta-Daityabhayadaaya Namah || ॐ प्रमत्त-दैत्याभयदाय नमः ||
83] Om Shrikanthaaya Namah || ॐ श्रीकांताय नमः ||
84] Om Vibudheshwaraaya Namah || ॐ विबुढ़ेश्वराय नमः ||
85] Om Ramarchitaaya Namah || ॐ रामार्चिताय नमः ||
86] Om Vidhaye Namah || ॐ विधाये नमः ||
87] Om Nagaraja-Yagyno-Pavitavaathe Namah || ॐ नागराज- यज्ञिनो-पवितवाते नमः ||
88] Om Sthulakanthaaya Namah || ॐ स्थूलकान्ताय नमः ||
89] Om Swayam-Kartre Namah || ॐ स्वयं-कर्त्रे नमः ||
90] Om Sama-Ghosha-Priyaaya Namah || ॐ सम-घोष-प्रियाय नमः ||

91] Om Parasmai Namah || ॐ परस्मै नमः ||
92] Om Sthulatundhaaya Namah || ॐ स्थूल तुण्डाय नमः ||
93] Om Agranyaaya Namah || ॐ अग्रण्याय नमः ||
94] Om Dhiraaya Namah || ॐ धीराय नमः ||
95] Om Vagishaaya Namah || ॐ वागीशाय नमः ||
96] Om Siddhidhayakaaya Namah || ॐ सिद्धिदायकाय नमः ||
97] Om Dhurva-Bilwa-Priyaaya-Namah (ॐ दूर्वा-बिल्व-प्रियाय नमः ||
98] Om Avyaktamurthaaye Namah || ॐ अव्यक्तमूर्ताये नमः ||
99] Om Adbhuta-Murthi-Mathe-Namah || ॐ अद्भुत-मर्तिमते नमः ||
100] Om Shailendhra-Tanu-Jotsanga-Khelanotsuka- Manasaaya Namah || ॐ शैलेन्द्रतनु-जोत्सन्ग-खेलनोत्सुक-मनसाय नमः ||

101] Om Swalavanya-Sudha-Sarajitha-Manmatha-Vigrahaaya Namah || ॐ स्वलावण्य-सुधा-सर्जित-मन्मथ-विग्रहाय नमः ||
102] Om Samastha-Jagada-Dharaaya Namah || ॐ समस्त-जगत्धराय नमः ||
103] Om Mayine Namah || ॐ मायिने नमः ||
104] Om Mushika-Vahanaaya Namah || ॐ मूषक-वाहनाय नमः ||
105] Om Hrishtaaya Namah || ॐ हृष्टाय नमः ||
106] Om Tushtaaya Namah || ॐ तुष्टाय नमः ||
107] Om Prasannatmane Namah || ॐ प्रसन्नात्मने नमः ||
108] Om Sarva-Siddhi-Pradhayakaaya Namah (ॐ सर्व-सिद्धि-प्रदायकाय नमः ||

Comments

Popular posts from this blog

लाख कोशिश करने के बाद भी सफलता नहीं मिल रही है तो इस गणेश मंत्र को बोलें

लाख कोशिश करने के बाद भी किसी भी काम, कार्य या हेतु, जैसे कि नई नौकरी-धंधा पाने की कोशिश, प्यार-शादी करने के प्रयास, नया मकान खरीदने की कोशिश और अन्य कामों और मनोकामना पूरी करने में यश नहीं मिल रहा है तो इस श्री गणेश जी के सर्व कार्य सिद्धि मंत्र को बोलने से यश मिलने की संभावना बढ़ जाती है.

चमत्कारी बीज मंत्र और उनका जाप करने के फायदे

देवी देवताओं के १४ चमत्कारी और महा शक्तिशाली देवी देवताओं के बीज मंत्रों के रहस्य लाभ और फायदे इस पोस्ट में बताई गयी है. इन बीज मंत्रों का जाप या रोज स्मरण करने से आम इंसान, बच्चे और साधकों को लाभ हो सकता है.

बरगद के पेड़ के पत्ते के चमत्कारी उपाय

बरगद के पेड़ के पत्ते से किसी भी प्रकार की इच्छा या मनोकामना पूरी करने के और धन-दौलत पाने के 2 चमत्कारी सरल और आसान उपायों के बारे में इस आर्टिक्ल में जानकारी दी गयी है। इन घरेलू उपायों को करने के लिए ज्यादा से ज्यादा 5-10 मिनट लगते है। और यह इतने सरल है की इनका प्रयोग कोई भी व्यक्ति बिना परेशानी से कर सकता है।

महा शक्तिशाली मनोकामना पूर्ति और शत्रु नाशक बीज मंत्र

इस आर्टिकल में महादेव के मुख से निकले और डामर तंत्र में वर्णित सबसे शक्तिशाली मनोकामना पूर्ति करने के और दुश्मन से मुक्ति पाने के महा मंत्र के बारे में बताया है।

3 Words Hanuman Mantras to Destroy Enemies

Many times it is not possible for everyone to chant the श्री हनुमान अष्टोत्तर-शतनाम-नामावली/Shri Hanuman Ashtottara Shatanamavali, which is a compilation of the 108 names of Lord Hanuman. Hence, in an emergency related to danger from enemies such people can chant these 3 words Hanuman Mantras derived from the Shri Hanuman Ashtottara Shatanamavali.

शीघ्र फलित स्वप्न सिद्धि या त्रिकाल सिद्धि

स्वप्न सिद्धि या त्रिकाल सिद्धि ये साधना बोहत लंबे समय तक करने से सिद्धि मिलती हे पर कुछ विधान ऐसे हे जो इस साधना को शीग्र फलित कर सकते हैं. आज आप सभी को एक सिद्धि साधना दी जा रही है इस साधना को स्वप्न सिद्धि साधना कहते हैं.  - लेखक श्री गुरु